Product Details

AloeJuice

AloeJuice

Product ID: SRS61

Rs 160 INR

Availability: (1000) In Stock

Condition: New

Category: AloeVera Product

Brand: Sri Ram Samridhi pharmaceutical

Product Description: श्री राम समृद्धि एलोवेरा जूस एलोवेरा (घृतकुमारी, ग्वारपाठा, घी-ग्वार, क्वारगंदल आदि) एक औषधीय पौधा है, मानो कुदरत ने मानव शरीर के कल्याण के लिए विशेष तौर पर इसे धरती पर लाया गया हो| जितने गुण एलोवेरा में है शायद ही किसी जड़ी – बूटी में एक साथ पाए जाते है, इसलिए इसे औषधियों का महाराजा माना जाता है, अमृत जैसे गुणों वाली मानव कल्याणकरी इस औषधीये पौधे में सैकड़ो बीमारियों का उपचार करने की अदभुत क्षमता है| औषधी की दुनिया में इसे संजीवनी भी कहा जाता है| इसे साइलेंट हीलर तथा चमत्कारी औषधी भी कहा जाता है| रामायण, वेदों और बाइबिल में भी इस पौधे के गुणों की चर्चा की गयी है. एलोवेरा का ५००० साल पुराना इतिहास है| पुराने समय में लोग इसे औषधी के रूप में इस्तेमाल करते आ रहे हैं| मिस्र की महारानी क्लीवपेटरा से लेकर महात्मा गाँधी तक इसका इस्तेमाल करके फायदा उठा चुके है| कोई भी वैद्य, चिकित्सक, हकीम इसके गुणों को नकार नहीं सकता | वर्षोँ के शोध के बाद पता चला की एलोवेरा ३०० प्रकार के होते है, इसमे २८४ किस्म के एलोवेरा में ० से १५ प्रतिशत औषधि गुण होते है| ११ प्रकार के पौधें ज़हरीले होते है| बाकी बचे ५ विशेष प्रकार में से एक पौधा बारबाडेन्ससि मिलर है जिसमें १००% औषधी व दवाई दोनो के गुण के गुण पाए गए है| एलोवेरा काम कैसे करता है? एलोवेरा जूस बहुत पौष्टिक तत्वों से भरपूर होता है | एलोवेरा में अनेक प्रकार के घटक खनिज लवण विटामिन फोलिक एसिड तथा नियासिन पाए जाते है | जिसका सृजन और संग्रह शरीर द्वारा स्वयं नही किया जा सकता लेकिन शरीर को चुस्त-दुरूस्त और स्वस्थ्य रखने के लिए अत्यंत आवश्यक है एलोवेरा में विटामिन ए, बी, बी१,बी६, बी१२, व सी पाये जाते हैं| एलोवेरा के रस या जैल में, अनेक कुदरती तत्व है जो जोड़ों और मांसपेशियों को गतिमान बनाए रखने में मदद कर सकता है | एलोवेरा में प्रभावी एंटी-आक्सीडेंट, एंटी-बाईटिक और एंटी-शुगर गुण है, एलोवेरा में प्रचुर मात्रा में पाया जाने वाला सेपोनिन का गुण है जो की शरीर के रोगाणु को नष्ट करके अंदरूनी मरम्मत और सफाई करता है अलोवेरका जूस पीने से कई बिमारीयों का निदान हो जाता है | आयुर्वेदिक पद्धति के अनुसार इसके सेवन से वायुजनित रोग, पेट रोग, जोड़ो के दर्द, अल्सर, अम्लपित आदि बीमारिया दूर हो जाती है | इसके अलावा रक्त शोधक, पाचन क्रिया के लिए काफी गुणकारी माना जाता है | एलोवेरा जूस कम से कम ९० से १२० दिनों के नियमित सेवन से असाध्य कहे जाने वाली बिमारियों में लाभ पा सकते है- जैसे- Arthritis, Diabetics, Heart Problem, High/Low Blood Pressure, Gastric Problem, Constipation, Obesity, Ulcer, Lack of Energy, Thyroid, Kidney Problem, Back Pains, Survical Problem, Parkinson, Colits, Amoebas, Stress, Tension, Depression, Cholestrol, Pimples और Cancer जैसी ख़तरनाक बीमारी में भी एलोवेरा जूस राहत देती है यानी इसके नियमित सेवन से आप हमेशा तंदुरूस्त रह सकते है | इस का नियमित सेवन काया कल्प कर देता है | यह रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है खून की कमी को दूर करता है | यह खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाकर बुढ़ापे को रोकने और शरीर का वजन नियंत्रित करता हैं| शरीर में लगभग ९०% बिमारिया लगातार ख़राब पाचन आती है, और एलोवेरा में मौजूद सेपोनीन और लिग्निन आंतो में जमे मैल को साफ़ करता है, कब्ज की बीमारी से फायदा मिलता है| एलोवेरा में मौजूद तत्व शरीर में प्रोटीन को ग्रहण करने की क्षमताको बढ़ाता है | हाजमे की खराबी से पैदा हुआ उच्च अम्लपित को नियंत्रित करके विषैलेपन को दूर करता है व हानिकारक बैक्टीरिया का नष्ट करता है एलोवेरा विटामिन सी तथा ई का अवशोषण को बढ़ा देता है | जिससे हमारे दांत तथा मसूड़े स्वास्थ्य रहते है| एलोवेरा जूस की हर नियमित २०-३० एम.एल. की खुराक पीने से शरीर के प्रतिरोधक क्षमता तन्त्र (ईम्यून सिस्टम) क्षमता को मजबूत करता है | एलोवेरा शरीर की मरम्मत और पोषण सम्बन्धी जरूरतों को पूरा करने वाला एक कुदरती, प्रभावशाली फूड सप्लीमेंट, औषधी और टॉनिक है | इसमें कोलेजन तथा इलैस्टिन नामक फाइबर पाया जाता है जो की हमारे शरीर के उत्तकों की टूट-फूट होने पर उनकी मरम्मत करता है, एलोवेरा जूस में एंटी-आक्सीडेंट पाये जाते है, जो की हमारे शरीर में उत्पन फ्री रेडिकल्स को नैचुरली डेटोक्सिफिंग करता है | यह आलस और थकान को दूर करके भरपूर तन्दुरस्ती लाता है, ऊर्जा का स्तर बढ़ाता है व वजन को नियंत्रित करता हैं| एलोवेरा जूस पीने से शुगर का स्तर उचित रूप से बना रहता है| एलोवेरा का जूस त्वचा की नमी को बनाए रखता है जिससे त्वचा स्वास्थ्य दिखती है | यह स्किन के कोलोजन और लचीलेपन को बढाकर स्किन को जवान और खूबसूरत बनाता है|एलोवेरा के जूस नियमित रूप से सेवन करने से त्वचा भीतर से खूबसूरत बनती है और उम्र से त्वचा पर होने वाले कुप्रभाव भी कम होते है | एलोवेरा के जूस का हर रोज सेवन करने से शरीर के जोड़ों के दर्द को कम किया जा सकती है | इसके रस के सेवन से जहां बीमार व्यक्ति अपना स्वास्थ्य ठीक कर सकता है वहीं स्वास्थ्य व्यस्क इसके सेवन से अपने स्वास्थ्य को बनाएं रखकर अधिक समय तक जवान बना रह सकते हैं| सावधानियाँ= १-एलोवेरा का इस्तेमाल सुबह खाली पेट ले इसके पहले और बाद में एक घंटे तक कुछ और न लें |२- गर्भावस्था में एलोवेरा का इस्तेमाल बिल्कुल न करें | ३-प्रसूता स्त्रियों को स्तनपान के दौरान एलोवेरा का सेवन न करायें |४-माहवारी के दिनों में एलोवेरा का सेवन न करें |५-दस्त में एलोवेरा का इस्तेमाल न करें|

Add to Cart